कई जन्मों से तेरे पीछे चलते रहे

Sad Shayari Image

कई जन्मों से तेरे पीछे चलते रहे हैं हम,
होते हुए तरल भी पिघलते रहे हैं हम।
तू हो के व्यस्त भूल गया वादे हजार कर के,
तेरी बेरुखी की आग में जलते रहे हैं हम।

प्यार का अंजाम कहाँ मालूम था
वो कह कर गई कि लौटकर आऊँगी
Rate this: