• Sad Shayari

    अब जानेमन तू तो नहीं

    अब जानेमन तू तो नहीं,
    शिकवा-ए-गम किस से कहें
    या चुप हें या रो पड़ें,
    किस्सा-ए-गम किससे कहें।

    आईना देखोगे तो मेरी याद आएगी

    आईना देखोगे तो मेरी याद आएगी
    साथ गुज़री वो मुलाकात याद आएगी
    पल भर क लिए वक़्त ठहर जाएगा,
    जब आपको मेरी कोई बात याद आएगी

    सबने कहा इश्क़ दर्द है

    सबने कहा इश्क़ दर्द है,
    हमने कहा ये दर्द कबुल है,
    सबने कहा इस दर्द के साथ जी नही पाओगे,
    हमने कहा इस दर्द के साथ मरना कबुल है |

    एक सपने की तरह सजा कर रखु

    Sad Shayari Image

    एक सपने की तरह सजा कर रखु
    अपने इस दिल में हमेशा छुपा कर रखु
    मेरी तक़दीर मेरे साथ नहीं वर्ना
    ज़िंदगी भर के लिए उसे अपना बना कर रखु ।

    बिखर जाते हैं जज़्बात

    Sad Shayari Image

    बिखर जाते हैं जज़्बात इन पन्नों पे इस तरहा,
    मंज़िल न मिलने पे जिंदगी बिखर गई हाे जैसे.

    याद रहेगा ये दौर

    Sad Shayari Image

    याद रहेगा ये दौर … ऐ ज़िन्दगी
    खूब तरसे हैं हम एक शख्स के लिए.

    तुम जो मतलबी होते

    कितना अच्छा होता तुम जो मतलबी होते,

    और तुम्हें सिर्फ मुझसे ही मतलब होता..

    दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे

    दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे,
    यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बेठे,
    वो हमे एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का,
    और हम उनके लिये जिंदगी लुटा बेठे!

    न जाने किस तरह का इश्क

    Sad Shayari Image

    न जाने किस तरह का इश्क कर रहे हैं हम,
    जिसके हो नहीं सकते उसी के हो रहे हैं हम।

    ढूंढ तो लेते अपने प्यार को हम

    Sad Shayari Image

    ढूंढ तो लेते अपने प्यार को हम,
    शहर में भीड़ इतनी भी न थी.
    पर रोक दी तलाश हमने,
    क्योंकि वो खोये नहीं थे, बदल गये थे.