Sad Shayari in Hindi

आँखें थक गई है आसमान को देखते देखते

sad shayari

आँखें थक गई है आसमान को देखते देखते
पर वो तारा नहीं टूटता ,जिसे देखकर तुम्हें मांग लूँ

हम ने रोती हुई आँखों को

हम ने रोती हुई आँखों को हँसाया है सदा,
इस से बेहतर इबादत तो नहीं होगी हमसे।

तुम्हें लगता होगा न ..

तुम्हें लगता होगा न .. कि कितना बुरा हूं मैं ..
लगने की बात है … मुझे तो खुदा लगे थे तुम ..

ऐ मेरे पाँव के छालो

ऐ मेरे पाँव के छालो… जरा लहू उगलो,
सिरफिरे मुझसे सफ़र के निशान माँगेंगे।

जिन जख्मो से खून नहीं

जिन जख्मो से खून नहीं निकलता समझ लेना
वो ज़ख्म किसी अपने ने ही दिया है।

क्यों बहाने करते हो मुझसे

क्यों बहाने करते हो मुझसे रूठ जाने के
साफ़ साफ़ कह देते दिल में जगह नहीं है हमारे लिए

वो मिली भी तो क्या मिली

वो मिली भी तो क्या मिली बन के बेवफा मिली,
इतने तो मेरे गुनाह ना थे जितनी मुझे सजा मिली।

सिर्फ हम ही जानते हैं

सिर्फ हम ही जानते हैं इस दिल की बेकरारी,
हमें जीने के लिए तुम्हारी जरुरत है
सांसों की नहीं.

आज भी मेरे बदन से आती है

आज भी मेरे बदन से आती है तेरे ही सांसों की महक,
तेरे बाद किसी को सीने से लगाया नहीं हमने!!

होता होगा तुम्हारी दुनियाँ

होता होगा तुम्हारी दुनियाँ में गहरा समंदर।
हमारे यहाँ इश्क़ से गहरा कुछ भी नहीं।।