Dosti Shayari

ये किसने कहा यारी बराबरी


ये किसने कहा यारी बराबरी वालो से होती है,
ये तो अनमोल है इसमे सब बराबर होता है।

लोग कहते हैं ज़मीं पर किसी

लोग कहते हैं ज़मीं पर किसी को खुदा नहीं मिलता,
शायद उन लोगों को दोस्त कोई तुम-सा नहीं मिलता।

वो अच्छा है तो अच्छा है,

वो अच्छा है तो अच्छा है,वो बुरा है तो भी अच्छा है,
दोस्ती के मिजाज़ में, यारों के ऐब नहीं देखे जाते।

तूफानों ​की दुश्मनी से न बचते

तूफानों ​की दुश्मनी से न बचते तो खैर थी​,
​साहिल से दोस्तों के भरम ने डुबो दिया​।

लोग कहते हैं ज़मीं पर किसी

लोग कहते हैं ज़मीं पर किसी को खुदा नहीं मिलता,
शायद उन लोगों को दोस्त कोई तुम-सा नहीं मिलता।

किस्मत ने ना जाने कैसे

किस्मत ने ना जाने कैसे तुमसे मिला दिया है हमें,
अनजान था जो चेहरा पहले, उसका दोस्त बना दिया है हमें…

सच्चे दोस्त हमें कभी गिरने नहीं देते,

सच्चे दोस्त हमें कभी गिरने नहीं देते,
न किसी कि नजरों मे न किसी के कदमों में।

दिल तोड़ना सजा है मुहब्बत की!

दिल तोड़ना सजा है मुहब्बत की!
दिल जोड़ना अदा है दोस्ती की!
मांगे जो कुर्बानियां वो है मुहब्बत!
और जो बिन मांगे कुर्बान हो जाये वो है दोस्ती!

किस्मत वालों को ही मिलती है

किस्मत वालों को ही मिलती है
पनाह दोस्तों के दिल में,
यूँ ही हर शख्स जन्नत का
हकदार नहीं होता।

तेरी दोस्ती में ज़िन्दगी में तूफान मचाएंगे

तेरी दोस्ती में ज़िन्दगी में तूफान मचाएंगे,
तेरी दोस्ती में दिल के अरमान सजायेंगे,
अगर तेरी दोस्ती ज़िन्दगी भर साथ दे,
तो हम दोस्ती में मौत को भी पीछे छोड़ जायेंगे।