• Bewafa Images

    वफादार और तुम ?

    वफादार और तुम ?
    ख्याल अच्छा है, बेवफा और हम?
    इल्जाम भी अच्छा है.

    मुहब्बत साथ हो जरूरी नहीं

    मुहब्बत साथ हो जरूरी नहीं..
    पर मुहब्बत जिन्दगी भर हो ये बहुत जरूरी है

    उसने जाते-जाते बड़े गुरुर से कहा,

    उसने जाते-जाते बड़े गुरुर से कहा,
    “बहुत मिलेंगे तुम जैसे”
    तो मैंने भी मुस्कुराते हुए पूछ ही लिया
    मुझ जैसा ही क्यों चाहिए…!!

    यादें रह जाती है याद करने के लिए

    यादें रह जाती है याद करनेके लिए ,
    और वक़्त सब लेकर गुजर जाता है ,

    तन्हा मौसम है और उदास ‪‎रात‬ है

    तन्हा मौसम है और उदास ‪‎रात‬ है
    वो मिल के बिछड़ गये ये ‪‎कैसी मुलाक़ात‬ है,
    दिल धड़क तो रहा है मगर ‎आवाज़‬ नही है,
    वो धड़कन भी साथ ले गये ‎कितनी अजीब‬ बात है!

    आईना की तरह

    Bewafa Shayari

    तु भी आईने की तरह बेवफा निकला,
    जो सामने आया उसी का हो गया.