2 Line Shayari in hindi

रुठने का हक हैं तुझे, पर वजह बताया कर
खफा होना गलत नहीं, तू खता बताया कर.

हर शाम आँखों पर, तेरा आँचल लहराए,
हर रात यादों की बारात ले आए ।

तुझे रात भर ऐसे याद करती हूँ मैं …
.
जैसे सुबह इम्तेहान हो मेरा ।

तुम लाख भुलाकर देखो मुझे..
मै फिर भी याद आउंगी

उदास नजरें तड़प तड़प कर तुम्हारे जलवों को ढूंढती हैं
वो ख्वाब की तरह खो गए उन हसीन लम्हों को ढूंढती है

किताब ए इश्क़ में क्या कुछ दफ़्न मिला,

मुड़े हुए पन्नों में एक भूला हुआ वादा मिला !!

Apni yaadon ko apney paas rakha kar
Jab bhi mere paas aati hain aankhein nam kar jaati hain.

!!.उसकी जरूरत उसका इंतजार और अकेलापन.!!
!!.थक कर मुसकुरा देती हू मैं जब रो नहीं पाती.!!

!!.हर रात को तुम इतना याद आते हो कि हम भूल जाते हैं!!
!!.ये रातें सपनों के लिए होती हैं या तुम्हारी यादों के लिए!!

न जाने आज भी मुझे तेरा इंतज़ार क्यों है
बिछुड़ने के बाद भी मुझे तुझसे प्यार क्यों हैं