• Sad Status

    शायद कोई तो कर

    शायद कोई तो कर रहा है मेरी कमी पूरी
    तब ही तो मेरी याद तुम्हे अब नहीं आती

    अनजान थे हम अनजान

    अनजान थे हम अनजान ही रहने दो,
    किसी की यादों में हमें पल पल यूँ ही मरने दो,
    क्यों करते हो बदनाम लेकर नाम हमारा,
    अब तो इस नाम को गुमनाम रहने दो।

    सोचा था आज तेरे सिवा

    सोचा था आज तेरे सिवा कुछ और सोचुँ !
    अभी तक इस सोच में हुँ कि और क्या सोचुँ !!

    अब न करूंगा अपने दर्द

    अब न करूंगा अपने दर्द को बयाँ
    जब दर्द सहना मुझको ही है
    तो तमाशा क्यों करना

    मेरे सब्र की इन्तेहाँ क्या पूछते हो

    मेरे सब्र की इन्तेहाँ क्या पूछते हो ‘फ़राज़’
    वो मेरे सामने रो रहा है किसी और के लिए।

    कोई रात से कह दो कि थम जाये

    कोई रात से कह दो कि थम जाये
    मैं आज ख्वाब में ज़िन्दगी जीने वाला हूँ


    किस मुँह से इलज़ाम लगाए

    किस मुँह से इलज़ाम लगाए
    बारिश कि बौछारों पर
    हमने खुद तस्वीर बनायीं थी
    मिटटी कि दीवारों पर

    भर जायेंगे ज़ख़्म भी

    भर जायेंगे ज़ख़्म भी तुम ज़माने से ज़िक्र ना करना, अब ठीक हूँ मैं तुम मेरे दर्द की फ़िक्र ना करना..

    बेवफ़ाओं की गलियों में

    काश😞 हमारा 🙋🏻‍♀भी कोई #वफ़ादार🤝🏽 यार😋 होता #सीना👉🏽 तान💪🏽 कर चलते #बेवफ़ाओं 💔की गलियों 🛤में

    किसी का दिल दुखाने के बाद

    किसी☝🏽 का दिल❤ #दुखाने 💔के बाद #बेहतर👌🏼 होगा
    के तुम👆🏻 भी #अपनी बारी😔 का #इंतज़ार 🙇🏻‍♀करो.