• माना के किस्मत पे मेरा कोई ज़ोर नही

    Sad Shayari Image

    माना के किस्मत पे मेरा कोई ज़ोर नही,
    पर ये सच है के मोहब्बत मेरी कमज़ोर नही,
    उस के दिल मे, उसकी यादो मे कोई और है लेकिन,
    मेरी हर साँस में उसके सिवा कोई और नही.

    हम तो जी रहे थे उनका नाम लेकर
    यूँ हर पल हमें सताया न कीजिये
    Rate this: