• फ़र्ज़ था जो मेरा निभा दिया मैंने

    Sad Shayari Image

    फ़र्ज़ था जो मेरा निभा दिया मैंने,
    उसने माँगा जो वो सब दे दिया मैंने,
    वो सुनके गैरों की बातें बेवफ़ा हो गयी,
    समझ के ख्वाब उसको आखिर भुला दिया मैंने.

    दिल से दूर जिन्हें हम कर ना सके
    मैं थोड़ी moody हूँ nakhre वाली हूँ
    Rate this: