• बिखर जाते हैं जज़्बात

    Sad Shayari Image

    बिखर जाते हैं जज़्बात इन पन्नों पे इस तरहा,
    मंज़िल न मिलने पे जिंदगी बिखर गई हाे जैसे.

    होती है महसूस तेरी मौजूदगी हर पल
    जो इश्क़ तकलीफ न दे
    Rate this: