अंदर से बिल्कुल खाली हूँ

dard shayari

अंदर से बिल्कुल खाली हूँ
ऊपर बस जिस्म पहन रखा है.

मैं मर जाऊँ तो
वादा है साथ निभाने का
Rate this: