• अब रोया नहीं जाता

    sad shayari

    तरस आता है मुझे अपनी मासूम सी पलकों पर,
    जब भीग कर कहती हैं कि अब रोया नहीं जाता।

    जिंदगी इतनी दुखी नहीं
    कब तक हम यूँ जियें
    Rate this: