• आज भी मेरे बदन से आती है

    आज भी मेरे बदन से आती है तेरे ही सांसों की महक,
    तेरे बाद किसी को सीने से लगाया नहीं हमने!!

    सिर्फ हम ही जानते हैं
    अब मोहब्बत नही रही इस
    Rate this: